जिग और फिक्स्चर

(jig & fixtures)

 

Jig & fixtures वर्तमान औधोगिक युग में मशीनों द्वारा जब विनिमय योग्य पार्ट्स का अधिक मात्रा में उत्पादन किया जाता है तो पार्ट्स को मशीनों के टेबल के साथ पकड़ने और टूल्स को गाइड करने के लिए कुछ साधन प्रयोग में लाये जाते है।जिन्हे जिग और फिक्स्चर कहते है।जिग टूल को गाइड करता है।और जाॅब को सही पोजीशन में पकड़ता है,जबकि फिक्स्चर का मुख्य कार्य क्लेम्पिंग करना है।

 

लाभ

 

1.जिग और फिक्स्चर की सहायता से पार्ट्स विनिमय योग्य बनते है।

2.जिग और फिक्स्चर का प्रयोग करने से कम कुशल कारीगर से काम लिया जा सकता है।

3.जिग और फिक्स्चर का प्रयोग करके पार्ट्स कम समय में और अधिक मात्रा में बनाये जा सकते है।

4.जिग और फिक्स्चर का प्रयोग करने से पार्ट्स की मापों को चैक करने की आवश्यकता नही होती है।

जिग का डिजाइन बनाने के लिए कुछ संकेत

1.जिग का डिजाइन बनाते समय ध्यान रखना चाहिए कि वह कम लागत में बनाया जा सके।

2.जिग की बनावट का डिजाइन आसान होना चाहिए जिससे कम कुशल कारीगर भी उसे प्रयोग में ला सके।

3.जिग की लोकेटिंग प्वाइंट परिशुध्द माप में होने चाहिए।

4.जिग की बनावट ऐसा होना चाहिए जिसे आसानी से एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाया जा सके।

5.जिग का भार कम होना चाहिए।

6.जिग में कटिंग चिप्स निकलने का रास्ता बना होना चाहिए।

7.जिग का डिजाइन ऐसा होना चाहिए कि उसमें जाॅब को आसानी से फिट किया जा सके।और निकाला भी जा सके।

 

जिग

जिग एक प्रकार का साधन है,जिसका प्रयोग पार्ट्स का अधिक मात्रा में उत्पादन करते समय टूल को गाइड करने के लिए किया जा सकता है।जिग में प्रायः हार्ड धातु के बुशिंग्स फिट रहते है।जिससे कार्य क्रिया करते समय टूल को गाइड किया जा सकता है।जिग का प्रयोग प्रायः ड्रिलिंग,रिमिंग,टैपिंग आदि के लिए किया जाता है।

 

गाइड बुशिंग्स

 

जिग की बाडी प्रायः कास्ट आयरन या माइल्ड स्टील की बनाई जाती है,जिसमें कार्य क्रिया के अनुसार भिन्न भिन्न प्रकार के ब्रुश फिट किये जाते है।ये ब्रुश ही टूल को गाइड करते है।और सेंटर से बाहर नही होने देते।इसलिए इनको प्रायः टूल स्टील से बनाकर हार्ड व टेम्पर कर दिया जाता है,जिससे कटिंग टूल के साथ सम्पर्क में आने से घिसते नही है।प्रायः निम्नलिखित प्रकार के बुशिंग्स प्रयोग में लाये जाते है।

 

1.प्रेस फिट बुशिंग्स- इस प्रकार के बुशिंग्स जिग की बाॅडी में प्रेस करके फिट किये जाते है।ये हैड और बिना हैड दोनो तरह के होते है।

 

2.रिन्यूएबल बुशिंग्स- इस प्रकार के बुशिंग्स को जिग की बाॅडी के साथ एक स्क्रू के द्वारा फिट किया जाता है।इस प्रकार के बुशिंग्स का यह लाभ होता है कि यदि कार्य करते समय बुशिंग्स घिस जाये तो उसे आसानी से बदला जा सकता है।

 

3.स्लिप रिन्यूएबल बुशिंग्स- इस प्रकार के बुशिंग्स प्रायः वहाँ प्रयोग में लाये जाते है,जहाँ पर एक ही सेटिंग में दो या अधिक कार्य क्रियाएँ करनी हो।जैसे किसी जाॅब की ड्रिलिंग करना,रिमिंग करना आदि।

 

जिग के प्रकार

 

कार्य के अनुसार किसी भी डिजाइन के जिग बनाये जा सकते है।जो कि प्रायः निम्नलिखित प्रकार के हो सकते है-

 

1.प्लेट जिग 2.ऐंगल जिग 3.टेम्पलेट जिग

4.चैनल जिग 5.ओपन जिग 6.बाक्स जिग

7.इंडेक्सिंग जिग

फिक्स्चर

 

यह एक प्रकार का साधन है जिसका प्रयोग क्रियाऐ करते समय जाॅब को मशीन के साथ क्लेम्प करने के लिए किया जाता है।इसका डिजाइन कार्य क्रिया और मशीन के अनुसार किया जाता है।जैसे ड्रिलिंग फिक्स्चर,शेपिंग फिक्स्चर,स्लाटिंग फिक्स्चर और टर्निंग फिक्स्चर आदि।


जिग


1.जिग एक प्रकार का साधन है जो कि जाॅब को सही पोजीशन में पकड़ता है और टूल को गाइड करता है।

2.इसमें प्रायः गाइड बुशिंग्स का प्रयोग किया जाता है।

3.जिग का प्रयोग करने से जाॅब पर मार्किंग करने की आवश्यकता नही होती है।

4.जिग का प्रयोग करने से जाॅब की मापो को चैक करने आवश्यकता नही होती है।


फिक्स्चर


1.फिक्स्चर एक प्रकार का साधन है जो केवल क्लेम्प द्वारा कार्य करता है।

2.इसमें गाइड बुशिंग्स का प्रयोग नही किया जाता है।

3.फिक्स्चर का प्रयोग करने से जाॅब पर मार्किंग की जा सकती है।

4.फिक्स्चर का प्रयोग करने से जाॅब की मापो को चैक करने की आवश्यकता हो सकती है।

 

आपको मेरी दी गई जानकारी कैसी लगी मुझको जरूर बताये।

चाबी और चाभी घाट(key and key way)क्या है?

 

मापन(measurement)क्या है?measurement tools के प्रकार

 

Sine bar क्या है?